Home   I   About Us   I   Contact   I   FAQ's   I   Member Article
Read Jyotish Manthan
Home Current Event
Current Event Posted On : 04-11-2011
 

तुला के शनि के परिणाम - Part 2nd

तुला : इस समय आप साढ़ेसाती के के दूसरी ढैया में प्रवेश कर रहे हैं और इसके प्रभाव में आप 26 जनवरी 2017 तक रहेंगे। यह समय नए व्यावसायिक प्रस्ताव पाने का है और उनमें से किसी एक को आप स्वीकार कर सकते हैं। आय के साधन बढ़ेंगे और साथ ही कुछ धन आप अपने पारिवारिक संपत्ति को बढ़ाने के लिए खर्च करेंगे। पद संबंधी लाभ होगा, ऋण का पुनर्भुगतान हो सकता है। विरोधियों पर विजय पाने में भी आप सफल होंगे। यदि नौकरीपेशा हैं तो थोड़ा सावधान रहने की आवश्यकता है।

वर्ष 2012 के द्वितीयाद्र्ध में रहस्यविद्याओं और ज्ञान में रुचि बढ़ेगी। पारिवारिक विवाद यदि कोई हैं तो उनके सुलझने के आसार हंै। भूमि-भवन में निवेश की संभावनाएं बढ़ेंगी और जन्मस्थान के आसपास रहने के अवसर ज्यादा मिलेंगे। तीर्थस्थान की यात्राएं होंगी। ऋण यदि कोई हैं तो उनके पुनर्भुगतान की संभावना अधिक रहेगी।

वृश्चिक : आप साढ़ेसाती के दौर में प्रवेश कर रहे हैं तथा यह 15 नवंबर 2011 से 24 जनवरी 2020 तक रहेगी। इस अवधि में लाभ बढ़ेंगे। कार्यस्थल पर आपका वर्चस्व बढ़ेगा परंतु खर्च भी अपेक्षा से अधिक होगा। पारिवारिक विवाद जन्म ले सकते हैं, उनको सुलझाने के लिए आपको प्रयास करने होंगे। ऋण यदि कोई हैं तो उनके पुनर्भुगतान वर्ष 2012 के द्वितीयाद्र्ध तक कुछ हद तक कर पायेंगे। यदि विवाहित हैं तो जीवनसाथी का स्वास्थ्य प्रभावित होगा और यदि अविवाहित हैं तो संबंधों को सावधानी से आगे बढ़ाएं। यदि नौकरीपेशा हैं तो आपके प्रभाव में वृद्धि होगी और यदि स्वयं का व्यवसाय है तो भी प्रभाव क्षेत्र कम नहीं रहेगा।

वर्ष के द्वितीयाद्र्ध में व्यक्तिगत और व्यावसायिक संबंधों में बहुत अधिक सावधानी बरतनी होगी, विशेष रूप से जून 2012 इन संबंधों के लिए कुछ कठिन रहेगा। यात्राएं बहुत अधिक होंगी। संभव है कि कोई विदेश यात्रा भी कर लें।

धनु : इस समय आर्थिक लाभ अधिक होगा और आप खर्च की नई योजनाएं भी उसी हिसाब से बनाएंगे। कोई बड़ा और विशेष निर्णय ले लेंगे। रहस्यविद्याओं में रुचि बढ़ेगी परंतु स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा। यदि नौकरी करते हैं तो वर्ष 2011 के अंतिम महीने और 2012 का प्रथमाद्र्ध बहुत शुभ जाने वाला है।

वर्ष के द्वितीयाद्र्ध में स्वास्थ्य की ओर विशेष ध्यान देना होगा। कुछ नए ऋण विशेष कारणों से ले सकते हैं। यदि नौकरीपेशा हैं तो आपकी नीतियों की पालना भी होगी और उनके लिए प्रशंसा भी मिलेगी। खर्च की अधिकता रहेगी और अनपेक्षित, अचानक कोई खर्च करना पड़ सकता है। अगस्त 2012 के बाद आर्थिक लाभ बढ़ जाएंगे। कुटुंब से भी सहयोग मिलेगा।

मकर : इस अवधि में काम के घंटे बढ़ जाएंगे और कार्यक्षेत्र का भी विस्तार होगा। यात्राएं अधिक होंगी और उन पर खर्च भी उसी अनुपात में करेंगे। स्थान बदलने की यदि सोच रहे हैं तो वर्ष 2012 के प्रथमाद्र्ध तक यह कदम उठा सकते हैं। आय की मात्रा बढ़ेगी परंतु आपको यह भी ध्यान रखना होगा कि वह आय नीतिगत तरीकों से ही अर्जित की जाए। पाचन संबंधी विकार हो सकते हैं। व्यावसायिक भागीदारी यदि कोई हैं तो उसे सावधानीपूर्वक आगे ले जाए। निर्माण कार्यों पर भी कुछ धन खर्च होगा।

वर्ष के द्वितीयाद्र्ध में पूर्व में चले आ रहे अनावश्यक खर्चों पर रोक लगेगी और धन कमाने के लिए आपको कुछ अतिरिक्त प्रयास जून 2012 से अगस्त 2012 के मध्य करने होंगे। इसके बाद आर्थिक समस्याएं नहीं रहेंगी, काम के घंटे लगातार बढ़ेंगे और आपको अपेक्षा से अधिक समय अपने कार्यस्थल पर देना होगा। यदि नौकरी करते हैं तो लाभ की स्थितियां रहेंगी।

कुंभ : इस अवधि में भाग्य बढ़ेगा। पुराने खर्चों पर रोक लगेगी और विरोधियों की गतिविधियों पर नियंत्रण करने में सफल रहेंगे। शत्रु पक्ष परास्त होगा। यदि विवाहित हैं तो जीवनसाथी का स्वास्थ प्रभावित हो सकता है। यदि अविवाहित हैं तो संबंधों में दरार आ सकती है। नौकरी करते हैं तो कार्यक्षेत्र में प्रभाव बढ़ेगा और पदोन्नति की संभावनाएं भी अधिक हैं।

16 मई, 2012 से 04 अगस्त, 2012 के बीच आप शनि की ढैया के प्रभाव में रहेंगे अत: इस समय में आपको विशेष सावधानी रखनी होगी। इसी अवधि में मातृपक्ष से कुछ समस्याएं होंगी और एक कठिनाई का दौर रहेगा। यदि आप नौकरीपेशा हैं तो अतिरिक्त सावधानी बरतते हुए काम करें अन्यथा परेशानी हो सकती है। भूमि संबंधी कोई विवाद जन्म ले सकता है।

मीन :  इस समय आप शनि की ढैया में प्रवेश कर रहे हैं तथा यह ढैया 15 नवम्बर, 2011 से 03 नवम्बर 2014 तक रहेगी। यदि आप नौकरीपेशा हैं तो आपको सावधान रहना होगा। बॉस अथवा अन्य उच्चाधिकारियों से व्यर्थ विवाद में ना पडं़े अन्यथा संभव है कि आपको नौकरी बदलनी पड़े। आपको चाहिए कि इस पूरी अवधि में शनिदेव के पूजा-पाठ करते रहें। यदि व्यवसाय करते हैं तो उसमें भी बदलाव के संकेत हैं। कोई ऋण प्रबंधन करना पड़ सकता है। शत्रुओं पर यद्यपि आप हावी रहेंगे परंतु फिर भी कोई ना कोई परेशानी बनी रहेगी। 

वर्ष के द्वितीयाद्र्ध में अविवाहित लोगों के विवाह संबंध तय होने की संभावनाएं हैं। विशेष रूप से मई से अगस्त के मध्य का समय महत्वपूर्ण है। इस अवधि में कोई बड़ा निर्णय ले सकते हैं। संतान संबंधी कोई विशेष बात सामने आ सकती है और या तो उनके परीक्षा परिणाम अपेक्षा से अनुकूल नहीं होंगे अथवा किसी अन्य प्रकार की समस्या हो सकती है जिसको सुलझाने के लिए आपको अतिरिक्त प्रयास करने होंगे।

Previous Page

 
  Next Event
  तुला के शनि के परिणाम - Part 1st
 
Comments
Nike Flyknit
Nike
Adidas
New Balance
Adidas ZX 750
posted by Scott Jones  I  posted on 21 Sept, 2017 @ 12:03:53

http://www.nikeing.com.tw/
posted by Jennifer McKenny  I  posted on 04 Jun, 2017 @ 10:05:28

 
 
Post Your Comment
Name
Gender
male Female
Mail
Comment
 
 
Astrology Karma Kanda
Vastu Remedial Astrology
Feng-Shui Astronomy
Palmistry Spiritualism
Prashna Shastra Ayurveda
 
Home I  About Us I  Contact I  FAQ's I  Member Article
Political I  Financial I  Sports I  Films I  Monthly Forecast
Astrology I  Karma Kanda I  Vastu I  Remedial Astrology I  Feng-Shui I  Astronomy I  Palmistry I  Spiritualism I  Prashna Shastra I  Ayurveda
Exclusive for Month I  Celebrity Analysis I  Current Event
  © 2008 Jyotish Manthan. All rights reserved
www.pixelmultitoons.com  |  Privacy Policy  |  Legal Disclaimer